SCO Summit in Hindi [2022] | शंघाई सहयोग संगठन

sco in hindi

शंघाई सहयोग संगठन (SCO) एक स्थायी अन्तर-सरकारी संगठन है। जिसकी स्थापना 26 अप्रैल, 1996 को चीन के शंघाई शहर में हुई थी। वर्ष 2001 में SCO की स्थापना से पूर्व कजाकिस्तान, चीन, किर्गिस्तान, रूस और ताजिकिस्तान नामक पाँच देशों का संगठन * शंघाई-5 था।

Sco kya hai in Hindi  शंघाई सहयोग संगठन
सन् 2001 में वापस शंघाई में आयोजित शिखर सम्मेलन में उज्बेकिस्तान को शामिल कर शंघाई-VI में बदल दिया गया जो अब शंघाई सहयोग संगठन Shanghai Co operation Organisation' नाम से जाना जाता है।

वर्तमान में इसके सदस्य देशों में भारत और पाकिस्तान को भी 9 जून, 2017 को भी शामिल किया गया है। एस.सी.ओ. एक यूरेशियल राजनीतिक, आर्थिक और सुरक्षा संगठन है

जिसका उद्देश्य सम्बन्धित क्षेत्र में शांति सुरक्षा व स्थिरता को बनाए रखना है। इसका मुख्यालय बीजिंग (चीन) में है।

Sco में आधिकारिक भाषा Chinese and Russian है। Sco की ऑफीशियल वेबसाइट SectSCO.org है।

SCO ka full Form
=Shanghai Co operation Organisation
(शंघाई सहयोग संगठन)

शंघाई सहयोग संगठन के अध्यक्ष
चीन के झांग मिंग ने शंघाई सहयोग संगठन (sco) के नए महासचिव का पद सोपा गया है। अब वह तीन वर्षों तक इस पद पर रहेंगे। झांग मिंग पहले वो यूरोपीय संघ में चीन के राजदूत थे।
शंघाई सहयोग संगठन क्या है in Hindi
= ये सबकुछ मैंने ऊपर पोस्ट में बता दिया है आप जाकर पढ़ सकते है।

शंघाई सहयोग संगठन में कितने देश हैं
(SCO me kitne desh hai )
Sco में अभी वर्तमान समय में आठ पूर्ण सदस्य हैं। चीन, रूस, ताजिकिस्तान, कजाखस्तान, किर्गीजिस्तान और उज्बेकिस्तान इसके संस्थापक सदस्य हैं। भारत और पाकिस्तान को सबसे बाद में इसमें शामिल किया गया था।

शंघाई सहयोग संगठन में भारत कब शामिल हुआ
9 जून, 2017

शंघाई सहयोग संगठन के सदस्य
8

शंघाई सहयोग संगठन के उद्देश्य
जिसका उद्देश्य सम्बन्धित क्षेत्र में शांति सुरक्षा व स्थिरता को बनाए रखना है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ