Types of Computer in hindi [2022] | कंप्यूटर के प्रकार हिंदी में

Computer types name
कंप्यूटर अपने डेटा प्रसंस्करण क्षमता (data processing capabilities) के आधार पर वर्गीकृत किया जा सकता है। कम्प्यूटर उनके उद्देश्य, डेटा को संभालने की क्षमता, कार्यक्षमता, आकार, भंडारण क्षमता और प्रदर्शन के हिसाब से वर्गीकृत किए गए हैं।
Types of Computer  in Hindi - कंप्यूटर के प्रकार
ऑपरेटिंग सिद्धांतों और डेटा को संभालने की क्षमता के आधार पर कंप्यूटर को निम्नलिखित तीन भागों में बांटा गया है: एनालॉग कम्प्यूटर, डिजिटल कम्प्यूटर और हाइब्रिड कम्प्यूटर ।

Types of computer in Hindi
(कंप्यूटरों का वर्गीकरण)

1. एनालॉग कंप्यूटर

2. डिजिटल कम्प्यूटर

3. हाइब्रिड कंप्यूटर

1. एनालॉग कम्प्यूटर्स (Analog Computer)

एनालॉग कम्प्यूटर (Analog computers) मापन के सिद्धांतों पर कार्य करता है, और जो भी माप प्राप्त होता है उसे डेटा में परिवर्तित कर देता है। एनालॉग कम्प्यूटर वॉल्टेज, तापमान, तथा करंट आदि की मात्रा को मापने के लिए उपयोग किए जाते हैं। ये कम्प्यूटर सीधे नम्बरों पर ऑपरेट नहीं करते हैं।

2. डिजिटल कम्प्यूटर (Digital computer)

ये कम्प्यूटर्स (Digital Computers) इनफार्मेशन के डिजिटल फॉर्म में काम करते है | ये कम्प्यूटर ज्यादा शुद्धता और तेज गति से ऑपरेट करते हैं। ये कंप्यूटर गिनती (operate by counting) से कार्य करते हैं। ये कम्प्यूटर सामान्य प्रयोजन अनुप्रयोगों और डेटा की विशाल मात्रा को प्रोसेस करने में उपयोग किए जाते हैं।

3. हाइब्रिड कम्प्यूटर्स (Hybrid Computer) 

ये कम्प्यूटर (Hybrid Computers) डिजिटल और एनालॉग कम्प्यूटर, दोनों ही कम्प्यूटरों के फीचर को प्रदर्शित करते है | हाइब्रिड कंप्यूटर सिस्टम सेटअप एक लागत प्रभावी जटिल सिमुलेशन को प्रदर्शीत करने का तरीका प्रदान करता है। ये कम्प्यूटर्स एक नियंत्रक (controller) के समान कार्य करते हैं और लॉजिकल ऑपरेशन प्रदान करते हैं।

■ डिजिटल कंप्यूटर चार प्रकार के होते है मिनी , माइक्रो , मेनफ्रेम , सुपर जिनको हम विस्तार से पढेंगे स्टेप बाय स्टेप

Types of computer chart

Types of Computer chart

1. सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

यह कंप्यूटर (super computer) डेटा के भण्डारण क्षमता, प्रदर्शन और डेटा के प्रोसेस के मामले में सबसे शक्तिशाली कंप्यूटर्स होते हैं। सुपर कंप्यूटर बहुत ही खास कंप्यूटर्स होते हैं जो कि बड़ी और महत्वपूर्ण खोज और वैज्ञानिक कार्य के उद्देश्यों को करने के लिए उपयोग किए जाते हैं। जैसे कि नासा द्वारा अंतरिक्ष यान को लॉन्च और उन्हें नियंत्रित करने एवं अंतरिक्ष में खोज करने के उद्देश्य को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। इन कंप्यूटर्स को कार्य करने के लिए बहुत ज्यादा जगह की जरुरत पड़ती है और ये अत्यधिक महंगें भी होते हैं। पहला सुपर कंप्यूटर 1964 में बनाया गया था, जिसका नाम है CDC 6600 था।

सुपर कंप्यूटर के कार्यक्षेत्र:

मौसम की भविष्यवाणी: इन कंप्यूटरों का उपयोग अनुमान लगाने और मौसम की भविष्यवाणी का अध्ययन करने एवं बरसात, तूफान, प्रकृति और इनकी तीव्रता का अध्ययन करने के लिए किया जाता है।

भूकंप की जानकारी लेना: सुपर कंप्यूटरों का उपयोग भूकंप घटना की खोज के लिए भी किया जाता है। इनका उपयोग प्राकृतिक गैस, पेट्रोलियम और कोयला जैसे संसाधनों की खोज करने के लिए भी किया जाता है।

दूरभाष: ये कंप्यूटर्स विभिन्न उपकरणों, मशीनों और व्यक्तियों के बीच संचार व्यवस्था को बढ़ाने में बहुत सहायक सिद्ध होते हैं।

इन कंप्यूटर्स के और भी बहुत सारे उपयोग हैं जैसे कि हथियारों के परीक्षण और परमाणु हथियार के प्रभाव को जानने में।

कुछ प्रसिद्ध सुपर कंप्यूटर्स है:

> IBM's Sequoia अमेरिका में 

> Fujitsu's K Computer जापान में

> PARAM Super computer भारत में

2. मैनफ्रेम कंप्यूटर्स (Mainframe Computers)

ये कंप्यूटर्स (Mainframe Computers) भी काफी महंगे होते हैं और इनका इस्तेमाल सरकारी संगठनों में और बड़ी व्यावसायिक कंपनियों द्वारा व्यापार के संचालन के लिए किया जाता है। ये कंप्यूटर एक बड़े कमरे में रखे जाते हैं जहां इसे ठंडा रखने एवं दूसरी सुविधाएँ उपलब्ध होती हो। ये बहुत बड़ी मात्रा में डेटा को बहुत तेज गति से प्रोसेस कर सकते हैं। विशाल व्यावसायिक बैंक, शिक्षा संस्थान और इंश्योरेंस कंपनियों में उनके ग्राहकों के डेटा को रखने के लिए मैनफ्रेम कंप्यूटर्स का उपयोग किया जाता है।

कुछ प्रसिद्ध मैनफ्रेम कंप्यूटर्स है:

Fujitsu's  ICL VME

हिताची Z800

 3. मिनी कंप्यूटर्स (Mini Computers)

मिनी कंप्यूटर्स (Mini Computers) प्रायः छोटे व्यापार में उपयोग में लिये जाते हैं हालांकि ये सुपर कंप्यूटर के समान शक्तिशाली नहीं होते हैं लेकिन फिर भी ये एक शक्तिशाली मशीनों की गिनती में आते हैं। इनका उपयोग बड़ी या मध्यम वर्ग की कंपनियों और उत्पादन सदनों (production houses) में किया जाता है। ये कंप्यूटर्स एक एकल उपयोगकर्ता और बहु उपयोगकर्ता (single and multi users concepts) की अवधारणा के अनुसार भी कार्य करते हैं। कुछ मिनी कंप्यूटर्स के उदाहरण निम्नलिखित हैं:

> K-202

> टेक्सास इंस्ट्रूमेंट TI-990

> SDS-92.

4. माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computers) 

डेस्कटॉप कंप्यूटर्स, लैपटॉप, PDAs, टैबलेट्स और स्मार्ट फोन, ये सब माईक्रो कंप्यूटर (Micro Computers) के ही प्रकार हैं। इन कंप्यूटर्स का उपयोग बहुत ज्यादा किया जाता है और ये बहुत तेज गति से इस्तेमाल किए जाने वाले कंप्यूटर्स के रूप में उभर रहे हैं। ये कंप्यूटर्स चारों बुनियादी कंप्यूटर में से सबसे सस्ते होते हैं। ये एक सामान्य प्रकार के कार्य को करने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं जैसे कि संचार, शिक्षा, मनोरंजन और दूसरे उद्देश्यों पूरा करने के लिए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ